बीसीसीआई ने आईपीएल 2021 के बाकी बचे मैचों को यूएई में करवाने का फैसला किया है. शनिवार को हुई बीसीसीआई की मीटिंग में आईपीएल को इंडिया के यूएई शिफ्ट करने पर सहमति बनी.

पिछले कई दिनों से ही आईपीएल के 14वें सीजन के इंडिया से यूएई शिफ्ट होने के कयास लगाए जा रहे थे. लेकिन अब तक बीसीसीआई इस बात पर कुछ भी बोलने से बच रहा था. शनिवार को आईपीएल 2021 के फ्यूचर को लेकर बीसीसीआई ने एक मीटिंग बुलाई थी और पिछले साल की सफलता को देखते हुए यूएई को आईपीएल 2021 के बाकी बचे 31 मैचों की मेजबानी के लिए चुना गया.

बता दें कि आईपीएल के 14वें सीजन का आगाज 9 अप्रैल से मुंबई और चेन्नई में हुआ था. करीब 25 दिन तक बीसीसीआई टूर्नामेंट को सफलतापूर्वक आयोजित करवाने में कामयाब रहा. लेकिन जैसे ही टीमें अहमदाबाद और दिल्ली पहुंची तभी एक साथ कई खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

बीसीसीआई ने दो मैचों को टालने के बाद आखिरकार तीन मई को 14वें सीजन को स्थगित करने का फैसला किया. बीसीसीआई ने हालांकि पहले ही साफ कर दिया था कि वह 14वें सीजन के लिए नए विंडो की तलाश करेगा.

14वें सीजन में लीग राउंड और प्लेऑफ के कुल 60 मुकाबले खेले जाने हैं. टूर्नामेंट के स्थगित होने तक 29 मैचों का आयोजन हुआ था. अब बाकी बचे 31 मैच यूएई में खेले जाएंगे.

अगर बीसीसीआई आईपीएल सीजन 14 के बाकी बचे मैचों का आयोजन नहीं करवाता तो उसे करीब 3 हजार करोड़ रुपये का नुकसान झेलना पड़ता. बीसीसीआई ने हालांकि टूर्नामेंट के दोबारा शुरू होने की तारीखों का एलान नहीं किया है. जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक 18 सितंबर से 10 अक्टूबर के बीच आईपीएल 14 के बाकी बचे मैचों का आयोजन हो सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here