पौड़ी 10 मार्च: दो क्रिकेट क्लब ने बीते कल 9 मार्च को क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ पौड़ी पर क्लब को मान्यता नही देने का आरोप लगाते हुए क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के सचिव महिम वर्मा को पत्र लिख जिले से मान्यता दिलाने और संघ की कार्यविधि पर जाँच की मांग की थी।

एक क्रिकेट एकेडमी फेरेड क्लब श्रीनगर का आरोप था कि उसके पास एक क्लब को जो सुविधा होनी चाहिए मान्यता लेने के लिए वह सब था लेकिन फिर व मनमानी करते हुए एसोसिएशन पौड़ी ने मान्यता नही दी ।

जबकि दूसरे क्लब पैनों घाटी क्रिकेट क्लब का आरोप था हमारे द्वारा हर सुविधा खिलाड़ियो को दी जा रही है। यह एकेडमी पौड़ी से 150 किमी दूर है हमारे क्लब के मैदान में कई क्रिकेट टूर्नामेंट हुई है और अब यह मिनी स्टेडियम बनाई जा रही है। जबकि क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ पौड़ी ने मैदान को न ही तो देखा न ही कॉल किया।

देखिए क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ पौड़ी के सचिव ने क्या कहाँ?

जिला एसोसिएशन ऑफ पैड़ी के द्वारा जाँच करते हुए अधिकारी

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ पौड़ी के सचिव आशीष रावत कहा कि जहाँ तक फेरेड क्लब श्रीनगर की बात है तो मेरी टीम ने उस क्लब से संपर्क किया ।जब क्लब जाकर देखा तो पता चला कि ये क्लब के पास नेट भी नही लगा है न ही क्लब जिस जमीन पर चल रही है उसका एनओसी सरकार के ओर से लिया है जब क्लब को कुछ दिन बाद कागजात देने की बात कही गई तो उन्होंने कहा ठीक है ।

एक बार फिर एसोसिएशन ने क्लब से संपर्क किया लेकिन फिर भी सही कागजात उपलब्ध नही कराया गया इसलिए इस क्लब को मान्यता नही दी गई।

जबकि जहा तक दूसरे क्लब पैनों घाटी क्रिकेट क्लब की बात है तो उनके द्वारा लगाए गए सभी आरोप झूठे है उन्होंने कहा कि एसोसिएशन ने संपर्क नही किया जबकि हमारी टीम के दिए गए दो मोबाइल न में से एक इनवैलिड था जबकि दूसरे नंबर पर कॉल उठाया लेकिन उन्होंने कहा कि हमने तो कोई भी क्लब रजिस्ट्रेशन के लिए अप्लाई नही किया है।

श्री रावत कहा” मैं पैनों घाटी क्रिकेट क्लब पर आरोप लगाते हुए इसकी जांच की मांग करता हु की यह क्लब जानबूझ कर जिला एसोसिएशन को पहला मोबाइल न इनवैलिड दिया दूसरा गलत और अब जांच की मांग कर रहा है। यह क्लब की सोची समझी साजिश इसलिए ऐसे क्लब का जांच होना जरूरी है।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here