Saturday, May 8, 2021
HomeBiharबीसीए सचिव संजय कुमार ने बीसीसीआई को किया मेल, हर संभव करेंगे...

बीसीए सचिव संजय कुमार ने बीसीसीआई को किया मेल, हर संभव करेंगे मदद


  • बीसीए सचिव ने बीसीसीआई को भेजा Email
  • बीसीएल में भाग लेने वाले खिलाड़ियों और स्पोर्ट स्टाफ पर कार्रवाई नहीं किए जाने पर आभार प्रकट किया
  • बीसीसीआई की टीम को मदद करने का आश्वासन दिया

पटना 17 अप्रैल: बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव संजय कुमार ने बीसीसीआई के सभी पदाधिकारियों को पत्र भेजकर धन्यवाद प्रेषित करते हुए आभार प्रकट किया है। अध्यक्ष के द्वारा बिहार क्रिकेट लीग जैसे अवैध टुर्नामेंट के आयोजन के बाद भी बिहार क्रिकेट एसोसिएशन और इस लीग में भाग लेने वाले खिलाड़ियों तथा स्पोर्ट स्टाफ पर कार्रवाई नहीं करने के कारण यह पत्र बीसीसीआई को भेजा गया है।

सचिव श्री कुमार के द्वारा भेजे गए पत्र में अवैध लीग के आयोजन पर पूर्व में बीसीसीआई को भेजे गए पत्रों की भी चर्चा की गई है, और कहा गया है कि मुझे खुशी है कि बीसीसीआई की शीर्ष परिषद ने मेरे निवेदन को गंभीरता से लेते हुए बिहार क्रिकेट एसोसिएशन और इसके खिलाड़ियों पर कोई कार्रवाई नहीं की है।
जारी विज्ञप्ति में श्री कुमार ने बीसीसीआई को बिहार क्रिकेट लीग के मामले पर दिनांक 16 और 19 मार्च को भेजे गए ईमेल की चर्चा करते हुए कहा है कि हमने इस पत्र के माध्यम से बीसीसीआई को सच्चाई से अवगत करा दिया था।

भेजे गए ईमेल में श्री कुमार ने बीसीसीआई को बताया था कि इस बिहार क्रिकेट लीग का आयोजन बीसीए के विवादित अध्यक्ष राकेश कुमार तिवारी और उनके लोगों के द्वारा किया जा रहा है, इसके तकनीकी पक्ष से बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के अन्य पदाधिकारियों समेत सचिव को कोई लेना देना नहीं है। श्री कुमार ने 13 अप्रैल को भेजे गए बीसीसीआई के ईमेल पर चर्चा करते हुए कहा कि हमने इस मेल के माध्यम से बीसीसीआई से जो आग्रह की थी, वो निम्न है:

1: हमने इस मेल के माध्यम से बीसीसीआई की संविधान की धारा 41(1)(B) के तहत राकेश कुमार तिवारी के उपर कार्रवाई करने का आग्रह किया था। इस धारा के आलोक में सबसे पहले कारणपृक्षा की कारवाई की जाती है, जिसे बीसीसीआई के द्वारा किया गया है।

२: बिहार क्रिकेट लीग में भाग लेने वाले खिलाड़ियों और स्पोर्ट स्टाफ को राकेश कुमार तिवारी और उनके गिरोह के लोगों के द्वारा इस लीग के अवैध घोषित किए जाने की कार्रवाई को छिपाया गया, अतः मैं बीसीसीआई के शीर्ष परिषद के सदस्यों से अनुरोध करता हूं कि इनके उपर कोई भी कार्रवाई नहीं किया जाए।
बीसीसीआई के द्वारा इन लोगों पर कोई भी कार्रवाई नहीं करने पर बीसीसीआई के प्रति आभार व्यक्त किया गया।

३: बीसीसीआई को 13 अप्रैल को भेजे गए पत्र में राकेश कुमार तिवारी के द्वारा किए जा रहे अनुशासन हीनता, बीसीए / बीसीएल में हुई आर्थिक अनियमितता और बिहार क्रिकेट एसोसिएशन को अस्थिर करने के प्रयास की जांच के लिए एक टीम के गठन की मांग की गई थी।

इस मामले को लेकर बीसीसीआई के द्वारा टीम गठित करने पर संतोष व्यक्त किया गया है।
बीसीसीआई को भेजे गए पत्र में श्री कुमार ने कहा है कि बिहार क्रिकेट एसोसिएशन की हालिया स्थिति और हो रहे असंवैधानिक गतिविधियों पर बीसीसीआई के द्वारा टीम गठित कर उसे बिहार भेजा जाएगा, जो यहां के मामले की समीक्षा कर रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। भेजे गए पत्र में कहा गया है कि बीसीसीआई के द्वारा भेजे गए टीम को हमारे द्वारा पूर्ण रूप से सहयोग किया जाएगा, ताकि बिहार क्रिकेट एसोसिएशन की सच्चाई से बीसीसीआई भी अवगत हो सके।

मेल में 13 अप्रैल को बीसीसीआई को भेजे गए पत्र की प्रति संलग्न जो खेलबिहार न्यूज़ के पास उपलब्ध है।।



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!